• 2018/hindi-14327.jpg
  • दरिया का सारा नशा:

    दरिया का सारा नशा उतरता चला गया,
    मुझको डुबोया और मैं उभरता चला गया;

    वो पैरवी तो झूठ की करता चला गया,
    लेकिन बस उसका चेहरा उतरता चला गया;

    हर साँस उम्र भर किसी मरहम से कम न थी,
    मैं जैसे कोई जख्म था भरता चला गया।
  • यह कैसे मुमकिन हो सकता है कि जेब में कुछ हो फिर भी जेब खाली है?
    अगर जेब में छेद हो!
  • जरुरत के समय सहायता मिल जाने से ज्यादा महत्वपूर्ण कुछ और हो ही नहीं सकता| ~ Saint Thiruvalluvar
  • फ़िल्मी डॉक्टर! सोचो अगर डॉक्टर फिल्म बनाते तो फिल्मों के नाम क्या होते?
    कभी खांसी कभी जुखाम।
    कहो न बुखार है...
    पूरा जोक पढ़ें...