• 2019/hindi-16431.jpg
  • ज़हर देता है कोई:

    ज़हर देता है कोई, कोई दवा देता है,
    जो भी मिलता है, मेरा दर्द बढ़ा देता है;

    किसी हमदम का, सरे शाम ख़याल आ जाना,
    नींद जलती हुई आँखों की उड़ा देता है;

    प्यास इतनी है मेरी, रूह की गहराई में,
    अश्क गिरता है तो, दामन को जला देता है;

    किसने माज़ी के दरीचों से, पुकारा है मुझे,
    कौन भूली हुई राहों से, सदा देता है;

    वक़्त ही दर्द के, काँटों पे सुलाए दिल को,
    वक़्त ही दर्द का, एहसास मिटा देता है;

    रोने से तसल्ली कभी हो जाती थी,
    अब तबस्सुम मेरे होटों को जला देता है!
  • ऐसा कौन सा कागज़ है जो है तो आपका लेकिन अगर उस पर आपके हस्ताक्षर हों तो वो अमाननीय हो जायेगा।
    मृत्यु प्रमाण पत्र
  • हमारे जीवन में चाहे कितने भी अन्धकार पल क्यों न आये, बस वो थोड़े दिन ही रुककर चले जायंगे| फिर तो आशा की किरण चमकने ही लगेगी| ~ Orison Swett Marden
  • कंजूसी की हद! एक दिन एक कंजूस के घर उसके सात आठ दोस्त, जो खुद भी उसके जैसे ही कंजूस थे, मेहमान बनकर आ गए!
    कंजूस की बीवी बोली, "घर मे चीनी नहीं है, चाय कैसे बनाऊँ? जल्दी से जाकर ले आइये!"...
    पूरा जोक पढ़ें...