• 2018/hindi-15826.jpg
  • ज़रा सी ज़िन्दगी:

    ज़रा सी ज़िन्दगी में, व्यवधान बहुत हैं,
    तमाशा देखने को यहां, इंसान बहुत हैं!

    कोई भी नहीं बताता, ठीक रास्ता यहां,
    अजीब से इस शहर में, 'नादान' बहुत हैं!

    न करना भरोसा भूल कर भी किसी पे,
    यहां हर गली में साहब बेईमान बहुत हैं!

    दौड़ते फिरते हैं, न जाने क्या पाने को,
    लगे रहते हैं जुगाड में, परेशान बहुत है!

    खुद ही बनाते हैं हम, पेचीदा ज़िन्दगी को,
    वर्ना तो जीने के नुस्खे, आसान बहुत हैं!
  • ऐसा कौन सा कागज़ है जो है तो आपका लेकिन अगर उस पर आपके हस्ताक्षर हों तो वो अमाननीय हो जायेगा।
    मृत्यु प्रमाण पत्र
  • जरुरत के समय सहायता मिल जाने से ज्यादा महत्वपूर्ण कुछ और हो ही नहीं सकता| ~ Saint Thiruvalluvar
  • आगे बढ़ने की होड़! नदी में डूबते हुए आदमी ने पुल पर चलते हुए आदमी को आवाज़ लगायी, "बचाओ-बचाओ"। पुल पर चलते आदमी ने नीचे देखा और उस आदमी को बचाने के लिए पुल से नीचे रस्सी फैंकी और कहा, "रस्सी को पकड़ के ऊपर आ जाओ।" परन्तु नदी में डूबता हुआ आदमी... पूरा जोक पढ़ें...