• 2018/hindi-15342.jpg
  • हवस की बस्तियों में:

    हवस की बस्तियों में यूँ गुजारा कर लिया हमने,
    ज़मीर मार डाला खुद इशारा कर लिया हमने;

    मुझे शक है कि मंदिर में कभी भगवान रहते थे,
    बढ़ी हैवानियत से कब्जा सारा कर लिया हमने;

    दरिंदे नन्ही कलियों को कुचल कर फेंक देते हैं,
    ज़ालिम सल्तनत में हैं गंवारा कर लिया हमने;

    अगर हैं बागबां करता शिकायत कोई हाकिम से,
    तो उसको मार देते हैं नजारा कर लिया हमने;

    बढ़ो आगे जुबां खोलो अगर थोड़े भी जिंदा हो,
    कभी ये सोचना भी मत किनारा कर लिया हमने!
  • यह कैसे मुमकिन हो सकता है कि जेब में कुछ हो फिर भी जेब खाली है?
    अगर जेब में छेद हो!
  • हमारे जीवन में चाहे कितने भी अन्धकार पल क्यों न आये, बस वो थोड़े दिन ही रुककर चले जायंगे| फिर तो आशा की किरण चमकने ही लगेगी| ~ Orison Swett Marden
  • ऊपर वाले का संकेत! एक आदमी और एक औरत दोनों की कारों का आपस में ज़बरदस्त एक्सीडेंट हो जाता है। किस्मत से दोनों अपनी कारों से सही सलामत बाहर निकलते हैं।... पूरा जोक पढ़ें...