• 2019/hindi-17742.jpg
  • एक फ़क़त याद है जाना उसका;
    और कुछ उसके सिवा याद नहीं!
  • यह कैसे मुमकिन हो सकता है कि जेब में कुछ हो फिर भी जेब खाली है?
    अगर जेब में छेद हो!
  • हमारे जीवन में चाहे कितने भी अन्धकार पल क्यों न आये, बस वो थोड़े दिन ही रुककर चले जायंगे| फिर तो आशा की किरण चमकने ही लगेगी| ~ Orison Swett Marden
  • जानलेवा ख़ुशी! 90 वर्षीय एक सज्जन की दस करोड़ की लाटरी लग गई। इतनी बड़ी खबर सुनकर कहीं दादाजी खुशी से मर न जाएं, यह सोचकर उनके घरवालों ने उन्हें तुरंत जानकारी नहीं दी। सबने तय किया कि पहले एक डॉक्टर को बुलवाया... पूरा जोक पढ़ें...