• वकील से शादी!

    एक लड़की ने सिर्फ एक वकील से शादी करने में रूचि दिखाई। जब उस लड़की से पूछा गया कि तुम एक वकील पति ही क्यों चाहती हो तो उसने ये उत्तर दिए:

    वो कमरे में घुसने के पहले और कमरे से निकलते समय सर झुकाता है।

    वो हर शब्द बोलने से पहले Your Honour (श्रीमान) या My Lord (मेरे स्वामी/ईश्वर) कहता है।

    उसे पुरुष होने का कोई घमण्ड नहीं होता, क्योंकि वो गाऊन पहनता है।

    वो उस BAR (बार) में जाता है जहां शराब नहीं परोसी जाती।

    और सबसे महत्वपूर्ण बात ये कि वो कभी भी किसी निर्णय पर निर्णय देने वाले के सामने कोई प्रश्न नहीं उठाता, चाहे वो निर्णय उसके खिलाफ ही क्यों न हो। एक पत्नि को इससे ज्यादा क्या चाहिए?
  • मछली पकड़ने का लाइसेंस!

    बंता मछलियाँ पकड़ने में काफी माहिर था और बड़ी बड़ी मछलियाँ पकड़ने के लिए मशहूर था, एक दिन वो बड़ी सी मछली पकड़कर टोकरी में लेकर घर की तरफ आ रहा था तभी मत्स्य अधिकारी ने उसे रोका और पूछा क्या तुम्हारे पास मछली पकड़ने का लाइसेंस है!

    बंता ने जवाब दिया लाइसेंस? कैसा लाइसेंस?

    लाइसेंस की तो कोई जरुरत ही नहीं है ये तो मेरी पालतू मछली है!

    पालतू मछली? मत्स्य अधिकारी ने पूछा!

    बंता ने जवाब दिया जी हाँ सर 'पालतू' हर रात को मैं इसे इस झील में डाल देता हूँ और थोड़ी देर के बाद मैं एक सीटी बजाता हूँ और ये कूदकर झील के किनारे पर आ जाती हैं और टोकरी में डालकर घर ले जाता हूँ!

    ये तो तुम मेरा सरेआम बेवकूफ बना रहे हो मछली ऐसा कर ही नहीं सकती!

    बंता ने अधिकारी से कहा कि आप ये चाहते हैं कि मैं आपको ये सब करके दिखाऊँ!

    मत्स्य अधिकारी ने उत्सुकता से कहा कि बिल्कुल जरुर देखना चाहूँगा!

    बंता ने मछली को पानी में डुबो दिया और वहीँ खड़ा हो गया थोड़ी देर वहीँ रुकने के बाद मत्स्य अधिकारी ने बंता से कहा: फिर?

    बंता: फिर क्या?

    अधिकारी ने पूछा तो तुम अपनी मछली को वापिस नहीं बुला रहे हो!

    बंता ने कहा: मछली?... कौन सी मछली?
  • औरतों की विचित्र सच्चाई!

    1. वे बचत में विश्वाश करती हैं लेकिन फिर भी महंगे महंगे कपडे खरीदती हैं।

    2. महंगे महंगे कपडे खरीदती है, फिर भी कहती रहती हैं कि मेरे पास पहनने को कुछ भी नहीं है।

    3. पहनने को कुछ भी नहीं होता है,पर सजती बहुत सुन्दर हैं।

    4. सजती बहुत सुन्दर हैं, पर सन्तुष्ट कभी नहीं होती।

    5. सन्तुष्ट कभी नहीं होती, पर हमेशा चाहती हैं कि उनका पति उनकी तारीफ़ करे।

    6. चाहती हैं कि उनका पति उनकी तारीफ़ करे, पर पति सच में भी तारीफ़ करे तो वे विश्वाश नहीं करती।

    सचमुच समझ से बाहर हैं ये औरतें।
  • आलसीपन!

    पति-पत्नी दोनों अव्वल दर्जे के आलसी थे। एक रात जब दोनों बिस्तर पर लेट गए तो कुछ शोर सा सुन कर पति बोला, "ज़रा देखो तो, बाहर बारिश हो रही है क्या?"

    पत्नी लेटे-लेटे ही बोली, "हो रही है।"

    पति: बिना देखे तुमने कैसे जान लिया?

    पत्नी: अभी जो बिल्ली अन्दर आई थी वो भीगी हुई थी इसका मतलब बारिश हो रही है।

    पांच मिनट बाद पति फिर बोला, "ज़रा लाइट तो बंद कर दो... रौशनी में नींद नहीं आ रही है।"

    पत्नी: कम्बल ओढ़ लो... अपने आप अँधेरा हो जाएगा।

    पति झल्लाते हुए बोला, "ठीक है कम से कम दरवाजा तो बंद कर लो।"

    पत्नी चिल्ला कर बोली, "अब दो काम मैंने कर दिए, एक काम आप खुद नहीं कर सकते क्या?"